Home » Tag Archives: ज्योतिष में प्राणरक्षा

Tag Archives: ज्योतिष में प्राणरक्षा

मारक और प्राण रक्षक ग्रह

मारक और प्राण रक्षक ग्रह

मरणासन्न व्यक्ति को यदि उसकी निकट मृत्यु का यदि निश्चित पूर्वानुमान हो जाए तो वह जल्दी मर जाएगा परंतु यदि जीवन शेष है और यह पता चल जाए कि वह बच जाएगा तो ना केवल उसकी इच्छा शक्ति में वृद्धि होगी बल्कि रोग में भी सुधार तेजी से होगा जीवन और मृत्यु का प्रश्न उपस्थित हो जाए और जब यह ...

Read More »

Advertisement