Home » Tag Archives: जन्मकुंडली

Tag Archives: जन्मकुंडली

जन्मकुंडली और सही करियर का चुनाव

Career as per astrology

हर व्यक्ति किसी खास क्षेत्र में पारंगत हो सकता है ऐसा कोई भी व्यक्ति नहीं है जो पूरी तरह से निकम्मा हो या जो हर काम में माहिर हो ईश्वर ने हर व्यक्ति को किसी खास मकसद के लिए भेजा है यदि हम अपने अनुरूप अपनी क्षमता के हिसाब से करियर का चयन करते हैं तो ना केवल हमें सफलता ...

Read More »

पूर्वाभास

पूर्वाभास

किसी घटना का घटित होने से पहले किसी न किसी रूप में पता चल जाना ही पूर्वाभास कहलाता है I यह उन लोगों को अधिक होता है जिनकी जन्मकुंडली में लग्न पर शनि गुरु और राहू की कृपा हो I शनि को हम घटना का कारण मानकर चलें तो राहू वह समय है जब घटना घटती है और गुरु वह ...

Read More »

कुंडली मिलान और सटीक जन्म समय

Accurate Birth Time for Kundali Matching

कल्पना कीजिये कि कोई व्यक्ति अपनी बेटी की शादी के लिए कोई रिश्ता आया है | रिश्ता अच्छा है तो हर कोई चाहेगा कि यहाँ बात बन जाए | अब सामने वाला पक्ष लड़की को देखता है घर बार सब ठीक है कोई कमी नहीं है तो वर पक्ष भी आकर्षित हो ही जाता है | फिर ख़याल आता है ...

Read More »

जन्म कुंडली मिलान और संजोग

संजोग से यहाँ अभिप्राय वैवाहिक संजोग का है | कहते हैं कि जोड़ियाँ आसमान में बनती हैं | वह जोड़ी जो विवाह के बंधन में बंधने वाली है उसके साथ प्रथम संपर्क से ही कड़ियाँ जुड़ने लगती हैं | धीरे धीरे सम्बन्ध प्रगाढ़ होते हैं और विवाह होते ही जीवन सार्थक हो जाता है | हर वर वधु विवाह से ...

Read More »

जन्मकुंडली और विवाह योग

Horoscope Kundli & marriage Yog

जन्मकुंडली का सातवाँ घर जन्मकुंडली में सप्तम स्थान से शादी का विचार किया जाता है | अब आप भी अपनी कुंडली में सप्तम स्थान को देखकर अपने विवाह और जीवन साथी के बारे में जान सकते हैं | नीचे लिखे कुछ साधारण नियम हर व्यक्ति पर लागु होते हैं | कुल १२ राशियों का सप्तम स्थान में होने पर क्या ...

Read More »

जन्मकुंडली और पुनर्विवाह

When I will get married indian astrology

पुनर्विवाह एक नया जीवन मैंने जब से ज्योतिष के क्षेत्र में कदम रखा है तब से विवाह और पुनर्विवाह के केस ६० फीसदी आते हैं | ये आंकड़े इस बात को साबित करते हैं कि दाम्पत्य जीवन एक तरह से नया जनम होता है जो तभी सार्थक हो सकता है यदि संबंधों के प्रति पति पत्नी का मत सामान हो ...

Read More »

Advertisement