आधी भविष्यवाणी – Adhi Bhavishyavani

Published by Horoscope-India on

Adhi Bhavishyavani

ईश्वर द्वारा हमारा जो भविष्य लिखा गया है उसे पढ़ने के लिए ईश्वर ने हमें ज्योतिष विद्या भी दी है क्योंकि परमपिता परमात्मा को पता था की आशा की किरण कभी मंद नहीं पड़नी चाहिए ज्योतिष के माध्यम से कम से कम इतना तो पता लगाया ही जा सकता है कि अच्छा समय कब आएगा परंतु बड़े आश्चर्य की बात है कि ज्योतिषाचार्य जो भविष्यवाणी करते हैं वह आधी भविष्यवाणी होती है आइए इसे एक उदाहरण के रूप में समझने की कोशिश करते हैं।

Ask your Horoscope

 

Verification

एक व्यक्ति ने पंडित जी से पूछा कि मेरी कितनी संतान होंगी पंडित जी ने उत्तर दिया एक लड़का होगा कुछ समय बाद उस व्यक्ति के दो संतान हुई एक लड़का और एक लड़की अब यहां ध्यान देने की बात यह है कि संतान के विषय में भविष्यवाणी करने के लिए पति और पत्नी दोनों की कुंडली आवश्यक है इस तरह यह आधी भविष्यवाणी हुई।

एक अन्य उदाहरण में जातक को कहा गया कि आपकी दो शादी का योग है बाद में भविष्यवाणी गलत सिद्ध हुई क्योंकि ताली दो हाथ से बजती है पत्नी की कुंडली में ऐसा कोई योग नहीं था जो तलाक जैसी स्थिति उत्पन्न करें हलाकि भविष्यवाणी सही थी लंबे समय तक पति पत्नी में तनाव रहा और पति पत्नी एक दूसरे से सारी उम्र दूर भागते रहे।

एक उदाहरण नौकरी के विषय में भी लीजिए जातक से कहा गया कि साल 2016 में आपकी नौकरी जा सकती है भारी आर्थिक संकट का सामना करना पड़ सकता है परंतु जातक को थोड़ी आर्थिक परेशानी अवश्य हुई उतनी नहीं जितनी गंभीरता भविष्यवाणी में थी।

पत्नी की कुंडली के ग्रहों की स्थिति साल 2016 में उत्तम थी।

यह सब उदाहरण ज्योतिष में सामान्य बात है।

एक बार पंडित जी ने चंद्रमा को अष्टम स्थान में देखकर जातक से कहा कि वर्तमान में चंद्रमा की अंतर्दशा शनि की महादशा में चल रही है इसलिए आपकी मां की तबियत खराब हो सकती है मृत्यु तुल्य कष्ट हो सकता है कब हुआ यह की जातक की माता की आंख का ऑपरेशन हुआ मोतियाबिंद के रूप में।

ध्यान देने की बात यह है कि जातक के दो भाई और एक बहन और थी उन सब की वर्तमान दशा में चंद्रमा की या तो स्थिति अच्छी थी या फिर चंद्रमा की दशा आनी बाकी थी हुई ना आधी भविष्यवाणी।

उपरोक्त सभी उदाहरण केवल इसलिए दिए गए हैं कि इंसान जीवन में अकेला नहीं होता समाज से जुड़ा है परिवार से जुड़ा है और इस जुड़ाव के साथ हमारे ग्रह भी जुड़े हैं मारने वाले से बचाने वाला हमेशा बड़ा माना जाता है यदि आपके ग्रह आपको चोट लगने का संकेत दे रहे हैं तो आपकी पत्नी के ग्रह आप को बचा सकते हैं यदि बचाव की स्थिति में हो तो।

Ask your Horoscope

 

Verification

प्रेमी प्रेमिका एक दूसरे से प्रेम करते हैं दोनों की कुंडली देखी तो पता चला प्रेमी की कुंडली में प्रेम विवाह का योग था प्रेमिका की कुंडली में प्रेम विवाह का योग नहीं था फिर भी दोनों का विवाह सर्वसम्मति से संपन्न हुआ तात्पर्य है कि जिस प्रश्न का संबंध दो व्यक्तियों से होता है उसकी भविष्यवाणी एक कुंडली से करना आधी भविष्यवाणी कहलाता है।

प्रबुद्ध पाठकों से निवेदन है कि इस संबंध में अपने विवेक का प्रयोग करें।

#AdhiBhavishyavani, #aadhiBhawishyawani, #aadhiBhavishyavani,


Horoscope-India

Ashok Prajapati is India, Ambala based dedicated astrologer serving people from last 25 years. Hi believe in practical astrology which comes from experience. He believes in Hindu Mantras & blessing people who have faith. His mission is to share maximum knowledge he learn from people's life and help the poor and helpless people.

0 Comments

Leave a Reply

Avatar placeholder