Home » Hindi Articles » सपने में मृत्यु देखना | सपने में किसी की मौत देखना
Sapne me apni maut dekhna

सपने में मृत्यु देखना | सपने में किसी की मौत देखना

सपने में आपकी मृत्यु हो जाती है तो यह स्वप्न आपके लिए कैसा रहेगा। इस लेख में हम आपको यह बताने का प्रयास करेंगे। स्वप्न में अपनी मृत्यु देखना आपके लिए शुभ है, इस धारणा के पीछे कारण यह माना जाता है कि जब व्यक्ति मरता है तो वह सभी प्रकार के बंधनो, कष्टों और सुखों को त्याग देता है अर्थात सुख-दुख सबसे पीछा छूट जाता हैं।

इसलिए सपने में अपनी मृत्यु देखना एक संकेत है आपके द्वारा एक नई शुरुआत का। हम कह सकते है कि आपके सभी प्रकार के कष्ट जल्द ही दूर होने वाले हैं। किसी बड़ी मुसीबत से शीघ्र ही आपको मुक्ति मिलने वाली है। यह भी संभव है कि आप जीवन के उस मुकाम पर है जहां से आपकी जिंदगी एक नया मोड़ लेने जा रही है यदि सपने में आप स्वयं को मरा हुआ पाते हैं।

सबसे पहले जान लीजिए कि मृत्यु इस जीवन का अंत है परंतु आत्मा नश्वर है। जो स्वप्न आपने देखा है वह आपकी आत्मा से संबंध रखता है। यदि स्वप्न का संबंध आत्मा से है तो आपको डरने की बिल्‍कुल भी आवश्‍यकता नहीं क्‍योंकि आत्मा की मृत्यु कभी नहीं होती। आत्‍मा वस्‍त्र के समान नए शरीर धारण करती रहती है। भगवत गीता में लिखा है कि

नैनं छिन्दन्ति शस्त्राणि नैनं दहति पावकः ।

न चैनं क्लेदयन्त्यापो न शोषयति मारुतः ।।

इसलिए बिल्‍कुल भी चिंता मत कीजिए सपने में यदि आप अपनी मृत्यु देख रहे है तो इसका अर्थ है कि आपके वर्तमान कष्ट समाप्‍त हो रहे है या शीघ्र हो जाएंगे। यदि आप स्वप्न में स्वयं को मृत पाए तो समझ लीजिए कि आपका जीवन बदलने वाला है अविवाहित लोगों की शादी हो सकती है। बेरोजगार व्यक्ति की नौकरी लग सकती है तथा ऐसी प्रमोशन जो काफी समय से रूकी हुई थी, अब वह हो सकती है।

अब हम इसी विषय को और विस्‍तार देते हुए चर्चा करते है कि स्वप्न में मृत्यु कैसे हो रही है, किस प्रकार से हो रही है। यह बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि सपने में शत्रु द्वारा स्वयं की मृत्यु देखना शुभ है परंतु यदि कोई व्यक्ति स्वप्न में पानी में डूबते हुए मरता है तो यह एक अशुभ स्वप्न है। इसी प्रकार सपने में स्‍वयं को आग में जल कर मरते हुए देखना भी अशुभ होता है। मेरा कहने का तात्पर्य यह है कि सपने में मृत्‍यु किस प्रकार हुई, यह काफी महत्वपूर्ण होता है। स्वाभाविक मृत्यु अत्यंत शुभ तथा अस्वाभाविक मृत्यु अशुभ फल देगी।

Advertisement