Home » Horoscope » Remedies for Prosperity – बरकत के लिए कुछ उपाय

Remedies for Prosperity – बरकत के लिए कुछ उपाय

जीवन निर्वाह के लिए पैसा कमाना आसान है परन्तु उसे बचा कर रखना कहीं अधिक कठिन | मेरी यह पोस्ट उन सबके लिए है जो किसी न किसी वजह से आर्थिक समस्याओं से जूझ रहे हैं | हर महीने सोचते हैं कि इस महीने तो कुछ नही बचा अगली सेलरी में शायद कुछ बच जाए और समय निकलता चला जाता है फिर भी हम वहीँ खड़े हैं जहाँ पांच या दस साल पहले थे | यदि पढ़कर आप अमल भी करेंगे तो विशवास दिलाता हूँ कि लाभ अवश्य होगा |

बरकत के लिए कुछ सामान्य घरेलू उपाय

  • धन की देवी लक्ष्मी की पूजा के विषय में तो सब जानते हैं परन्तु मैं एक ख़ास बात बताने जा रहा हूँ | लक्ष्मी जी का मन्त्र हर रोज चाहे कितनी ही कम संख्या में आप करें परन्तु हर रोज करें | और लक्ष्मी जी का ध्यान हमेशा भगवान विष्णु के साथ करें | इससे बहुत जल्द आपको परिणाम दिखाई देगा |
  • सरसों के तेल का दीपक घर के किसी सुरक्षित स्थान में प्रतिदिन जलाएं | पूजा नहीं करनी है न करें परन्तु यह दीपक प्रतिदिन जलना चाहिए | कुछ ही समय में समस्याएं कम होने लगेंगी |
  • आपके घर में सुबह की धूप चाहे कम क्यों न आती हो आने दें | एक बजे के बाद आने वाली धूप को घर में आने से रोकें |
  • शनिवार से शुरू करके प्रतिदिन पीपल के पेड़ के नीचे दीपक जलाएं और ब्रह्मा विष्णु महेश का ध्यान करें | कुछ ही दिनों के बाद धन सम्बन्धी बाधाएं कम होने लगेंगी |
  • किसी भी बुधवार की रात्रि से आरम्भ करके लक्ष्मी के मन्त्र का रोज ५ माला या कम से कम तीन माला का पाठ करें | इससे आपकी धन सम्बन्धी जितनी भी समस्याएं हैं दूर हो जायेंगी | लक्ष्मी मन्त्र इस प्रकार है | ॐ श्रीं ह्रीं श्रीं कमले कमलालये प्रसीद प्रसीद श्रीं ह्रीं श्रीं ॐ महालक्ष्म्यै नमः | यदि बैठ कर यह मन्त्र पढना मुश्किल हो तो मानसिक जप करें | उसके लिए कोई नियम नहीं है परन्तु हर समय इस मन्त्र को मन ही मन पढ़ते रहें | जितना अधिक जाप करेंगे फायदा उतना ही अधिक होगा |
  • रात को दही मत खाएं I सूरज ढलने के बाद झाड़ू मत लगाएं | मंदिर अगर पूर्व, त्तर, ईशान दिशा में न हो तो इसकी व्यवस्था करें |
  • आपके घर का पानी किस दिशा में जा रहा है इसका पता लगायें | अगर पूर्व, उत्तर, ईशान कोण के अतिरिक्त किसी अन्य दिशा में घर का पानी जाता हो तो घर का पैसा गलत चीजों पर खर्च होता है I इसके उपाय के लिए पानी की बहने की दिशा को पूर्व, उत्तर या ईशान में कर दें  |
  • अपने बाथरूम और किचन को रोज साफ़ सुथरा रखें इससे बरकत बनी रहती है |

यह तो हुए कुछ घरेलू उपाय अब मैं कुछ ऐसे उपाय बताता हूँ जिनके लिए कुछ वस्तुओं की आवश्यकता रहेगी | यह वस्तुएं सर्व सुलभ तो नहीं परन्तु प्राप्त की जा सकती हैं |

श्वेतार्क गणपति

आक का पौधा दो प्रकार का हर जगह पाया जाता है | यह पौधा अक्सर रेलवे लाइन या सडक किनारे मिल जाता है | खाली पड़े प्लाट या बड़े मैदान जहाँ धूप अधिक पड़ती हो वहां यह पौधा अवश्य मिल जाता है | आक के इस पौधे पर नीले या सफेद फूल खिलते हैं | सफेद फूल वाला आक श्वेतार्क कहलाता है | इस पौधे की जड़ गणपति की आकृति के समान होती है | यह कुदरती बात है कि इस जड़ की आकृति कभी कभी तो साक्षात् ऐसी लगती है जैसे गणेश जी की मूर्ती हो | जितनी स्पष्ट यह आकृति होगी उतनी ही चमत्कारी सिद्ध होगी | पहले दिन प्रार्थना करें कि हे श्वेतार्क मुझे आपकी कृपा चाहिए | फिर किसी का दिन मन में निश्चय करके नमस्कार सहित श्वेतार्क की जड़ को उखाड़ लायें और सावधानी से गणपति स्वरूप उस जड़ को अलग कर लें | इसे पवित्र स्थान दें और प्रतिदिन धूप दीप आदि से पूजन करें | कुछ ही समय में आपकी आर्थिक स्थिति में सुधार आना शुरू हो जाएगा | ध्यान रहे कि श्वेतार्क कम से कम चार साल पुराना होना चाहिए | यदि पौधा छोटा हो तो उसे मत उखाड़ें |

दक्षिणावर्ती शंख

शंख कई प्रकार का होता है परन्तु इस शंख की विशेषता यह है कि यह बजाने के लिए नहीं होता क्योंकि बजाने के लिए प्रयुक्त होने वाला मुहाना इसमें होता ही नहीं | इस शंख का खोखला हिस्सा दाहिनी ओर होता है इसलिए इसे दक्षिणावर्ती शंक कहते हैं | विष्णु जी के एक हाथ में यही शंख दिखाई देता है | इसे घर में जो रखता है उसके जीवन से धन का अभाव समाप्त हो जाता है | यदि कहीं से मिल जाए तो इसके अनेक फायदे हैं | पूजा घर में इसे चांदी की थाली में रखना चाहिए | इस शंख में पानी भरकर केले के वृक्ष को प्रतिदिन सींचने से ऋण का नाश और समृद्धि प्राप्त होती है | पीपल के वृक्ष को इसमें जल भरकर सींचने से रोग दूर होते हैं |
Just One Gemstone Is Enough

 

Leave a Reply

Follow me on Twitter