Home » Horoscope » Mahavidya Maatangi
Matangi Devi

Mahavidya Maatangi

नवरात्रों में कीजिये दस महाविद्या देवी मातंगी ( Maa Maatangi )की साधना

दस महाविद्या में देवी के दस रूपों में माँ काली, तारा, छिन्नमस्ता, षोडशी, भुवनेश्वरी, त्रिपुर भैरवी, धूमावती, माँ बगलामुखी, मातंगी और कमला की साधना जगद्विख्यात है |

तंत्र शास्त्री तो अनभिज्ञ हो ही नहीं सकते बल्कि आज हर साधक माँ के इन रूपों से परिचित है | कोई माँ काली का उपासक है तो कोई श्री कुल की देवी कमला का परन्तु आज अपने पाठकों से मैं अपनी आराध्य देवी मातंगी का परिचय करवाना चाहूँगा जिनकी कृपा प्राप्त प्राप्त हो जाने के बाद वाणी में सत्यता की शक्ति आ जाती है |

जो लोग शत्रु नाश चाहते हैं वे माता बगलामुखी की आराधना करते हैं और जो लोग धन वैभव चाहते हैं वे कमला या भुवनेश्वरी माँ की साधना करते हैं परन्तु जो लोग किसी के प्रेम में हैं वे वशीकरण का ही मार्ग चुनते हैं | मैंने बहुत बार अनुभव किया है कि वशीकरण की बात हो तो लोग दौड़े चले आते हैं | वशीकरण, सम्मोहन या आकर्षण के लिए देवी मातंगी की आराधना की जाती है | इनके प्रभाव से कोई प्रेमी अपनी प्रेमिका को अपनी और आकर्षित कर सकता है | टूटे सम्बन्ध पुन: स्थापित किये जा सकते हैं | साधना की चरमावस्था में तो मृतात्मा भी वशीभूत हो सकती है |
माँ मातंगी के प्रभाव से साधक सबका ध्यान अपनी और खींचने में सफल होता है | न केवल प्रभाव पैदा करने के लिए अपितु माँ मातंगी की साधना से व्यक्ति का हर काम आसानी से बनने लगता है |

प्रेमी युगल को मिलाने के लिए माँ मातंगी की साधना सर्वाधिक त्वरित फलदायी है | केवल कुछ ही दिनों की साधना से वाणी में शक्ति आने लगती है | विशेषकर जो लोग ज्योतिष के क्षेत्र में सफलता प्राप्त करना चाहते है वे माँ के इसी रूप की साधना में रत रहते हैं |

लोगों के समूह को अपनी वाणी से बांधकर रखना या अपने आसपास के सभी लोगों पर हावी होना, यह सब माँ मातंगी की कृपा से ही हो सकता है |

पाठकों से अनुरोध है कि यह लेख केवल उनके लिए है जो भारतीय संस्कृति के उपासक है और इस अलौकिक ज्ञान को समझते हैं | ऐसे ही प्रबुद्ध पाठकों के लिए मेरा यह लेख प्रसाद ग्राह्य हो ऐसी मेरी कामना है |


!! जय  श्री राम !!
अशोक प्र.

Matangi Devi\

 

www.horoscope-India.com

Image Source:http://dasmahavidya.com/page34.php

Leave a Reply

Follow me on Twitter